विद्यार्थियों के श्रमदान से महका स्कूल का बगीचा, महक रही है फूलो की खुशबु

इंदौर | शहर का एक सरकारी स्कूल विद्यार्थियों के प्रयास से फल-फूल गया है ! अब यह बगीचा बड़ा आकार भी ले रहा है ! यहाँ विभिन्न प्रजातियों के फुल और औषधि लहरा रही है ! छात्र-छात्राओं के लिए मनोरंजन के लिए अलग अलग जोन बनाये गए है ! यह बात हो रही है इंदौर शहर के खंडवा रोड स्थित संभागीय एकलव्य आवासीय विद्यालय परिसर को देखकर लगता है कि किसी बगीचे की झलक है |

आवासीय परिसर का बगीचा महक रहा है फूलो की खुशबु से

aawasiya parisar school indore

स्कूल स्टाफ की सहायता से विद्यार्थियों ने श्रमदान कर यह फल फूल के करीब 1 हजार से ज्यादा पौधे लगाए गए है ! यह मध्यप्रदेश का एकमात्र स्कूल है जहा कई प्रजातियों के फूल खिल रहे है ! यह विद्यार्थी और शिक्षक रोजना फूलो की देखभाल करते है ! साथ ही यह फूलो के लिए बहुत ही अच्छी पानी की व्यवस्था की  गयी है, बगीचे को देख कर ऐसा लगता है मानों यह किसी पांच सितारा होटल का नजारा है |

स्कूल के परिसर में औषधि के पौधे भी लगाए गए है जिसमे कदम, बेलपत्र, जाम, जामुन, आम, आंवला, करंज, सेह्तूत, बादाम मूलश्री इत्यादि शामिल है | एक छात्रा अपने गांव से चारोली के पौधे भी ले आई है ! जिसे शिक्षक भूपेंद्र यादव की देखरेख में नर्सरी में बढ़ा किया जा रहा है ! बाद में इन्हे भी औषधीय पोधो के साथ रोपा जायेगा |

स्कूल परिसर में कला, अध्यात्म और आनंद

आवासीय स्कूल परिसर में कला, अध्यात्म, आनंद और मनोरंजन का अनोखा तालमेल भी देखा जा सकता है ! प्राचार्य पीएम मैथ्यू ने बताया छात्रों के लिया आध्यात्म के लिए परिसर में नवग्रह वाटिका भी बनाई गयी है ! इसके माध्यम से विद्यार्थियों ग्रहो के महत्त्व और प्रभाव के बारे में बताया जाता है ! कला संस्कृति को बढ़ावा देने के लिए विशेष पिछड़ी जनजातियों के मांडने उकेरे गए है ! विद्यार्थियों में दिवार पर तरह तरह की पेंटिंग बनाकर उन्हें बहुत ही सुन्दर तरीके से सजा दिया है ! साथ ही परिसर में स्पोर्ट्स जोन, मनोरंजन जॉन बनाये गए है |

लेखक

Archana Kumari

नमस्ते! मैं Archana Kumari हूं। मैं 2016 से नौकरी और शिक्षा पर रिपोर्ट कर रही हूं। यदि आप रेलवे, बैंक, एसएससी, व्यापम, आईबीपीएस या किसी नौकरी से संबंधित कोई खबर देना चाहते हैं, तो कृपया [email protected] पर लिखें। कृपया अपने ईमेल में अपने पूर्ण नाम, शैक्षणिक योग्यता का उल्लेख करें।