ड्रोन कैमरों से हो रही अयोध्या की निगरानी, भाषण पर लगाई रोक | UP News

अयोध्या |  अयोध्या के राम जन्मभूमि-बाबरी मस्जिद विवाद को लेकर सुप्रीम कोर्ट के आने वाले फैसले पर न सिर्फ भारत बल्कि पूरी दुनिया की नजरें लगी हुई हैं। उत्तरप्रदेश पुलिस ने आने वाले फैसला को लेकलर अच्छी तरह से कमर कस ली है और साथ मे पुरे भारत मे जगह जगह पर पुलिस फ्लैग मार्च भी निकल रही है पुलिस ने निगरानी के लिए सख्त इंतजाम किये है अयोध्या के जिस स्थानो पर बड़ी आबादी मे लोग आते है वहाँ जमीन से लेकर आसमान तक निगरानी की गई है ऐसे क्षेत्रों पर ड्रोन कैमरा से निगरानी की जा रही है यहाँ पर करीब 50 से ऊपर सीसीटीवी कैमरे स्थाई और अस्थाई रूप से लगाए गए है ताकि शहर मे किसी भी तरह से हथियार बम बारूद इत्यादि अवैध यन्त्र शहर के अंदर न आ सके। 

अयोध्‍या पर फैसले को लेकर गोरखपुर के दो दिवसीय दौरे पर आए गोरखपुर जिले के नोडल अधिकारी एडीजी यूपी एटीएस डीके ठाकुर ने बताया कि लोगो को अपने देश मे शांति बनाने के लिए निर्देश दिए ! उन्होंने बताया की पुरे देश के पुलिस अधिकारी अपने अपने शहर मे फ्लैग मार्च निकल रही है ! ताकि लोग शांति बनाये रखे तथा सोशल मीडिया पर नजर रखी जा रही है ! आयोध्या फैसले को लेकर बार्डर और जिलों में सुरक्षा के पुख्‍ता इंतजाम किए गए हैं |

यह भी जाने :- अयोध्या फैसले के कारण भोपाल में 2 महीने के लिए धारा 144 लागू , पुलिस की छुट्टियां रद्द

बता दे की फैसले से पहले ही पुरे भारत मे सुरक्षा-व्यवस्था को देखकर धारा 144 लगा दी गई है ! सांप्रदायिक सद्भाव बनाए रखने के लिए अलग-अलग जिलों में मंदिरों और मस्जिदों से धार्मिक संगठन और कमेटियां अमन-शांति की अपील भी कर रही हैं ! मेरठ में भी रविवार को करीब छह मस्जिदों से शांति बनाए रखने का ऐलान किया गया |

शिया वक्फ बोर्ड का फैसला: नहीं होगा भाषण, धरना और प्रदर्शन

अयोध्या मामले में फैसला आने से पहले ही शिया वक्फ बोर्ड ने सभी वक्फ संपत्तियों पर होने वाले आयोजनों पर रोक लगा दी है ! उत्तर प्रदेश शिया सेंट्रल वक्फ बोर्ड के चेयरमैन वसीम रिजवी ने वक्फ बोर्ड की इमामबाड़ा मस्जिद, दरगाह, कार्यालय, कब्रिस्तान, मजार जैसी जगहों पर अयोध्या मसले को लेकर किसी तरह का भाषण या धरना-प्रदर्शन नहीं करने का आदेश जारी किया है ! यदि कोई आदेश का उल्लंघन करता है ! तो उसके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी ! आदेश की प्रति माननीय मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को भी भेजी गई है ।

शांति के लिए अपील की

अलीगढ मुस्लिम विश्वविद्यालय के कुलपति तारिक मंसूर ने विवि से जुड़े सभी युवको को अयोध्या पर किसी भी तरह से टिप्पणी नहीं करने की मांग की ! वहीं अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेद्र गिरी ने भी साधु-संतों से अदालत का निर्णय आने पर शांति बनाए रखने की अपील की है |

जानें कब तक जारी होगा राजस्थान पुलिस कांस्टेबल भर्ती 2019 का नोटिफिकेशन, जरूर पढ़े

लेखक

Archana Kumari

नमस्ते! मैं Archana Kumari हूं। मैं 2016 से नौकरी और शिक्षा पर रिपोर्ट कर रही हूं। यदि आप रेलवे, बैंक, एसएससी, व्यापम, आईबीपीएस या किसी नौकरी से संबंधित कोई खबर देना चाहते हैं, तो कृपया archana.newgovtvacancy@gmail.com पर लिखें। कृपया अपने ईमेल में अपने पूर्ण नाम, शैक्षणिक योग्यता का उल्लेख करें।

error: DMCA PROTECTED !!