कैसे शत्रुघ्न सिन्हा ने एक दिन मे छोड़ दिया सिगरेट पीना : इंदौर न्यूज़

इंदौर | मशहूर फिल्म अभिनेता और राजनेता शत्रुघ्न सिन्हा ने रविवार के दिन इंदौर मे इंडियन सोसायटी ऑफ ओकोलॉजी और इंडियन सोसायटी ऑफ मेडिकल एंड पीडियाट्रिक ओकोलॉजी कांफ्रेस में सिन्हा ने बताया की हमारे जीवन मे सबसे अच्छा दिन वह था जिस दिन मैंने सिगरेट पीना छोड़ दिया था और उन्होंने सेमिनार मे बताया की मेरे साथी अमिताभ बच्चन और शशि कपूर जी मुझसे भी कई गुना ज्यादा सिगरेट पीते थे मगर उन्होंने हमसे पहले ही सिगरेट छोड़ दी थी। इसके अलावा, कंपनी के मालिक alaudio.com.sg सिगरेट छोड़ दी। 

मध्यप्रदेश मे इंदौर के साथ साथ पुरे मध्यप्रदेश को तम्बाकू फ्री घोषित हो ! इसको लेकर सभी जगह पर कैंप और सेमिनार लगाए जा रहे है ! जिससे की पूरा मध्यप्रदेश तबाकू फ्री हो सके उन्होंने कहा कि तंबाकू उत्पादों को लेकर नियम कड़े होने चाहिए ! इसके लिए मैंने बड़ी कोशिश है ! बिहार में जितेंद्र सिंह के नेतृत्व में एक कार्यक्रम किया था ! अगले दिन पता चला कि बिहार में तंबाकू पर प्रतिबंध लगा दिया गया है। यह सब सुनकर अच्छा लगा।

कैसे शत्रुघ्न सिन्हा ने एक दिन मे छोड़ दी थी सिगरेट

अभिनेता और राजनेता शत्रुघ्न सिन्हा ने सेमिनार मे अपने एक फिल्म ‘मेरे अपने’ में एक फाइट – सीन का किस्सा भी सुनाया ! उन्होंने किस्सा सुनते हुआ कहा कि वो उनके जीवन का पहला मौका था ! जब उनको अपनी सिगरेट छोडने का मौका मिला ! उन्होंने कहा – मैं तीन कलाकार धर्मेंद्र, कबीर बेदी और विनोद खन्ना की बहुत कद्र करता रहा हूं।

कमलनाथ बोले – अभी 2-3 साइट और आएगी, शिवराज ने दिया मुँह तोड़ जवाब 

क्यों छोड़ी शत्रुघ्न सिन्हा ने सिगरेट

शत्रुघ्न सिन्हा ने कहा कि “मैं फ़िल्म “मेरे अपने” उसी दौरान शूटिंग कर रहा हूँ फिल्म के बीच मे एक सीन था जो लगभग 1 से 2 मिनिट का सीन था उसके बाद हम और गुलजार साहब दोनों एक साथ कुर्सी पर बैठे हुए थे और उसी दौरान गुलजार साहब लगातार 10 मिनिट तक हाँफते रहे और इसी को देखकर मुझे लगा की जब इतने दमदार व्यक्ति हॉफ रहा है तब मुझे समझ आया की सिगरेट हमारे लिए कितना खतरनाक साबित हो सकता है उसी के बाद से ही मैंने प्राण कर लिया की भविष्य मे कभी भी सिगरेट को हाथ नहीं लगाऊंगा उसी के बाद से ही मैंने सिरगेट छोड़ दी” । 

कई लोग छोड़ रहे है, तो कई अपना रहे

जैसा की आज के समय मे कई लोग सिरगेट के नुकशान को देखकर छोड़ने का प्रयत्न कर रहे है तो उसी को दूसरे और कई लोग इसको अपना भी रहे है और तो और लोग सिगरेट पिने को लोग पैशन का नाम देकर अपना रहे है और इसको तो महिलाओं ने भी बहुत ही ज्यादा मात्रा मे भी अपनाना चालू कर दिया है तो जो लोग भी इसको जागरूकता के मिशन मे काम कर रहे है उससे सही मायने मे इस कार्य को रोकने मे सबसे बेहतर काम कर रहे है।

सुकन्या समृधि योजना की जानकारी :- खाता कैसे खुलवाए, योजना के लाभ एवं पात्रता

लेखक

Archana Kumari

नमस्ते! मैं Archana Kumari हूं। मैं 2016 से नौकरी और शिक्षा पर रिपोर्ट कर रही हूं। यदि आप रेलवे, बैंक, एसएससी, व्यापम, आईबीपीएस या किसी नौकरी से संबंधित कोई खबर देना चाहते हैं, तो कृपया [email protected] पर लिखें। कृपया अपने ईमेल में अपने पूर्ण नाम, शैक्षणिक योग्यता का उल्लेख करें।