मप्र : प्रदेश के गठन के साथ हुआ था इंदौर को राजधानी बनाने का फैसला, नेहरु और डॉ. शर्मा ने भोपाल को चुना

इंदौर | मध्यप्रदेश के गठन के समय 1996 में इंदौर को MP की राजधानी बनाने की चर्चा जोरो पर थी परन्तु नेहरू जी तथा डॉ शंकर दयाल शर्मा भोपाल का मन बना चुके थे ! दरअसल मिनी मुंबई के नाम से जाने जाना वाला इंदौर भी राजधानी की दौड़ में शामिल था ! परन्तु परिस्थितिया कुछ ऐसी थी कि इंदौर और ग्वालियर दोनों को छोड़ कर भोपाल को राजधानी बनाना पढ़ा |

राज्य के गठन के साथ हुआ था इंदौर को राजधानी बनाने का फैसला

Madhya pradesh ka gathan map

कारण  जिनकी वजह से इंदौर राजधानी नहीं बन सका 

कारण 1. इंदौर स्टेट का केंद्र सरकार में छ महीने बाद विलय हुआ, इसलिए यह राजधानी बनते बनते रह गया |

कारण 2. इंदौर पर एक मत में फैसला हुआ था ! लेकिन नेहरू जी और डॉ. शर्मा भोपाल का मन बना चुके थे |

आजादी मिले के बाद पाकिस्तान तथा भारत देश को अलग अलग किया गया | स्वतंत्र एक्ट के तहत केंद्र सर्कार ने 562 रियासतो के  विलय की करवाई शुरू की | सरदार वल्लभ भाई पटेल ने सबको इसका सन्देश भेज दिया था | मध्यभारत बना तो ग्वालियर ने “स्टेट का केंद्र में विलय पर” हस्ताक्षर कर दिए परन्तु इंदौर ने नहीं किये | इंदौर द्वारा यह काम 6 महीने बाद किया गया |

मप्र स्थापना दिवस : इनके आदेश पर स्कूलों में पढ़ाया जाने लगा था ग से गणेश की जगह ग से गधा

1996 तक इंदौर मध्य भारत की राजधानी था | यशवंत राव होल्कर और जीवाजी राव सिंधिया के बिच सहमति से 1950 से 1996 तक छः महीने में इंदौर ग्वालियर राजधानी बनते थे | इस भींच कांग्रेस का प्रादेशिक अधिवेसन इंदौर में हुआ | सभी नेताओ  फैसला लिया की इंदौर को राजधानी बनाया जाये | प्रस्ताव  पारित कर यह जानकारी जब दिल्ली पहुंची तो नेहरू जी और डॉ. शंकर दयाल शर्मा ने इसे  दरकिनार कर दिया क्योकि वह पहले ही भोपाल का मन बना चुके थे |

भौगोलिक स्थिति के हिसाब से बीच  में था भोपाल

1996 तक छः महीने में इंदौर, ग्वालियर राजधानी बनते थे | प्रदेश का गठन हुआ तो इंदौर ने पक्ष रखा ! परन्तु भौगोलिक स्थिति के हिसाब से भोपाल अधिक बीच में था !  इंदौर के दावे के कारण  ग्वालियर को भी राजधानी नहीं बनाया गया |

लेखक

Nandini Sagar

नमस्ते! मैं Nandini Sagar हूं।मुझे लोगो की मदद करना अच्छा लगता है और मै इस वेबसाइट के माध्यम से आपकी मदद करती हु । यदि आप रेलवे, बैंक, एसएससी, व्यापम, आईबीपीएस या किसी नौकरी से संबंधित कोई खबर देना चाहते हैं, तो कृपया [email protected] पर लिखें। कृपया अपने ईमेल में अपने पूर्ण नाम, शैक्षणिक योग्यता का उल्लेख करें।