स्विस बैंको में भारतीयों के निष्क्रय खातों में पड़े है करोड़ो, लेकिन पिछले 6 सालो में कोई वारिश नहीं पोहचे

नई दिल्ली |  चुनाओ में कालाधन एक बहुत बड़ा मुद्दा है ! कई सालो से इसके ऊपर राजनीती भी होती आ रही है ! अब हाली में पीटीआई समाचार एजेंसी के रिपोर्ट सामने आई है ! रिपोर्ट में कहा गया है कि स्विसलैंड के स्विस बैंको में करीब एक दर्जन भारतीयो के खाते है ! जिनमे करोड़ो राशि जमा है ! जो की निष्क्रिय अवस्था में है | पीटीआई ने यह भी बताया की इन निष्क्रय खातों के अब तक पिछले 6 सालो में कोई दावेदार सामने नहीं आया है | ऐसे में यह आशंका लगाई जा रही है की इन खातों में पड़े रकम को स्विसलेंड सरकार को ट्रांसफर किया सकता है |

भारतीयों के खातों में है करोड़ो रुपए 

स्विस बैंको में भारतीयों के निष्क्रय खातों में पड़े है करोड़ो

रिपोर्ट में बताया गया है की इन निष्क्रिय खातों में करोड़ो की रकम है ! जिनके जल्द ही दावेदारी के अंतिम तारीख करोड़ो हो जाएगी ! रिपोर्ट के अनुसार करीब 2600 खाते ऐसे है जो निष्क्रय है जिनमे करीब 300 करोड़ का रकम होने की बात सामने आयी है | इनमे से कुछ खाते भारतीय और ब्रिटिश राज दौर जुड़े है| इन खातों के मालिक भारत के अलग- अलग शहर से बताये जा रहे है ! और कुछ खातों के मालिक फ़िलहाल यूके तथा फ़्रांस रहने की बात कही गयी है |

यह है मामला

इस बीच पाकिस्तानियो इन निष्क्रय खातों के लिए दवा किया पाकिस्तानियो ने न सिर्फ भारतीय खातों पर बल्कि और भी देश के निष्क्रय खातों पर अपने होने का दावा किया गया है ! यहाँ हम आपको बता दे की दिसंबर 2015 से ही स्विसलेंड सरकार ने इन खातों की जानकारी सार्वजनिक कर रहे है ! ऐसा वैश्विक दवाव कारण ही हो पाया है ! जिसके परिणाम सवरूप स्विसलेंड सरकार ने अपने बैंकिंग प्रणाली नियमित जांच के लिए खोला है ! साथ ही सस्विट्जरलैंड सरकार ने भारत सहित अन्य देशो से वित्त मामलो सुचना का आदान प्रदान करने के लिए समझौता भी किया है |

लेखक

Rohit Chandra

नमस्ते! मैं Rohit Chandra हूं। मैने JEE पास करके इंजीनियरिंग की है | मेरे द्वारा आपको यहाँ शिक्षा से सम्बंधित जानकारी दी जाती है । यदि आप रेलवे, बैंक, एसएससी, व्यापम, आईबीपीएस या किसी नौकरी से संबंधित कोई खबर देना चाहते हैं, तो कृपया [email protected] पर लिखें। कृपया अपने ईमेल में अपने पूर्ण नाम, शैक्षणिक योग्यता का उल्लेख करें।

Leave a Comment